Home Study Materials CTET एवं UPTET के लिए सामान्य ज्ञान प्रश्न-उत्तर

CTET एवं UPTET के लिए सामान्य ज्ञान प्रश्न-उत्तर

0

UPTET Samanya Gyan 2018:  Central Teacher Eligibility Test (CTET) और Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test (UPTET) की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए, आज हमारी एक्सपर्ट टीम UPTET Samanya Gyan Teacher Eligibility Test से संबंधित Notes लेकर आयी है |जिसे आप सभी अभ्यर्थी जरुर पढ़े |

UPTET Samanya Gyan

 CTET UPTET Samanya Gyan Notes

निचे दिए गए लेख को आप सभी Students ध्यान से पढ़े, यह लेख child Development से सम्बंधित प्रश्न-उत्तर है |



1.वह कौन-सा अवस्था है जब बच्चा तार्किक रूप से वस्तुओं व घटनाओं के विषय में चिंतन प्रारंभ करता है ?
(A) औपचारिक-संक्रियात्मक अवस्था
(B) पूर्व-संक्रियात्मक अवस्था
(C) संवेदी-प्रेरक अवस्था
(D) मूर्त-संक्रियात्मक अवस्था

2. शिक्षा के क्षेत्र में आप उपयुक्त एवं योग्य व्यक्तियों को किस प्रकार प्रेरित करेंगे ?
(A) उन्हें उपयुक्त पद देकर
(B) अच्छे वेतन द्वारा
(C) शोध, प्रोत्साहन एवं पुरस्कार देकर
(D) प्रशंसा द्वारा

3. मन का मानचित्रण किससे संबंधित है ?
(A) साहसिक कार्यों की क्रिया-योजना से
(B) बोध बढ़ाने की तकनीक से
(C) मन की क्रियाशीलता पर अनुसंधान से
(D) मन का चित्र बनाने से

4. वर्तमान में किस प्रकार की शिक्षा छात्रों तथा समाज के लिए लाभप्रद होगी ?
(A) रोजगार परक व्यावसायिक शिक्षा
(B) विशेषज्ञता प्रदान करने वाली शिक्षा
(C) प्रौद्योगिक का ज्ञान देने वाली शिक्षा
(D) नैतिक मूल्यों को उजागर करनेवाली धार्मिक शिक्षा

5. वह कौन-सा कथन सत्य है जहाँ बच्चे के संज्ञानात्मक विकास को सबसे बेहतर तरीके से परिभाषित किया जा सकता है ?
(A) विद्यालय एवं कक्षा पर्यावरण
(B) खेल का मैदान
(C) सभागार
(D) घर

6. बच्चों में मौलिक चिन्तन की शक्ति ?
(A) विकसित की जा सकती है
(B) स्वअध्ययन से बढ़ती है
(C) जन्मजात होती है
(D) A B दोनों

7. बच्चे दुनिया के बारे में अपनी समझ का सृजन करते हैं, इसका श्रेय किसको जाता है ?
(A) पैवलॉव
(B) पियाजे
(C) स्किनर
(D) इनमें से कोई नहीं

8. आपके विचार में चिन्तन शक्ति विकसित करने का कौन-सा उपाय है ?
(A) छात्रों को समस्या समाधान विधि से पढ़ाया जाये
(B) छात्रों में स्व-अध्ययन की आदत का विकास किया जाये
(C) छात्रों को खोज एवं व्रेन स्टार्मिंग विधि से पढ़ाया जाये
(D) ये सभी

9. शिक्षा के क्षेत्र में पाठ्यचर्या शब्दावली किस की ओर संकेत करती है ?
(A) विद्यालय का संपूर्ण कार्यक्रम जिसमें विद्यार्थी प्रतिदिन अनुभव प्राप्त करते हैं
(B) मूल्यांकन-प्रक्रिया
(C) शिक्षण-पद्धति एवं पढ़ाई जाने वाली विषय-वस्तु
(D) कक्षा में प्रयुक्त की जाने वाली पाठ्य सामग्री

10. एक शिक्षक के रूप में आप किस भावना को बढ़ाने में help करेंगे ?
(A) भेदभाव की भावना को
(B) ईर्ष्या की भावना को
(C) एक-दूसरे की मदद करने की भावना हो
(D) जाति-धर्म के नाम पर कोई भेदभाव नहीं हो

11. निम्न में किसने कहा है कि शिशु अपने और अपने संसार के बारे में अधिकांश बातें खेल के माध्यम से सीखते है ?
(A) क्रो एवं क्रो
(B) जॉन डीवी
(C) गेसल
(D) स्ट्रेंग

12. आप देश की दिशा बदलने में किसकी भूमिका को महत्वपूर्ण मानते हैं ?
(A) उच्च विद्यालयों के शिक्षकों की
(B) शिक्षक केवल पढ़ा सकता है
(C) शिक्षक तो केवल छात्रों की दिशा बदल सकता है
(D) शिक्षकों के रचनात्मक कार्यों की

13. हमारी शिक्षा-प्रणाली तथा उसके गिरते स्तर में सुधार न होने का क्या कारण है ?
(A) शिक्षा के प्रति सरकारी तन्त्र की उदासीनता
(B) जवाबदेही की भावना का अभाव
(C) योग्य अध्यापकों का चयन न होना
(D) ये सभी

14. ‘विकास कभी न समाप्त होने वाली प्रक्रिया है’ यह विचार किससे सम्बन्धित है ?
(A) निरंतरता का सिद्धांत
(B) अंतः सम्बन्ध का सिद्धांत
(C) अन्तःक्रिया का सिद्धांत
(D) एकीकरण का सिद्धांत

15. शिशु शिक्षा के संबंध में आप की राय क्या है ?
(A) शिशु शिक्षा छात्रावास में उत्तम होगी
(B) शिशु शिक्षा की जिम्मेदारी माँ के ऊपर होनी चाहिए
(C) स्त्रियां ही शिशुओं की अच्छी शिक्षक हो सकती हैं
(D) इनमें से कोई नहीं



16. निम्नलिखित में से किस अवस्था में बच्चे अपने समवयस्क समूह के सक्रिय सदस्य बन जाते हैं ?
(A) प्रौढ़ावस्था
(B) किशोरावस्था
(C) बाल्यावस्था
(D) पूर्व बाल्यावस्था

17. आपके अनुसार प्रभावी संप्रेषण संभव हो सकता है ?
(A) आपके विस्तृत ज्ञान से
(B) जोर से बोलकर
(C) श्रोता के स्तर को जानकर
(D) आपके उचित शब्द प्रयोग से

18. बच्चों के बौद्धिक विकास की चार विशिष्ट अवस्थाओं की पहचान की गई ?
(A) एरिकसन द्वारा
(B) पियाजे द्वारा
(C) स्किनर द्वारा
(D) इनमें से कोई नहीं

19. छात्रों में श्रम के महत्त्व के विकास हेतु क्या करनी चाहिए ?
(A) शिक्षक को स्वयं श्रम करना चाहिए
(B) छात्रों को श्रमजीवी लोगों के उदाहरण देने चाहिए
(C) छात्रों को समय-समय पर श्रम करने का अवसर देना चाहिए
(D) इनमें से कोई नहीं

20. वह स्तर जिसमें बच्चा किसी वस्तु एवं घटना के बारे में तार्किक रूप से सोचना शुरू करता है, क्या कहा जाता है ?
(A) संवेदन प्रणोद अवस्था
(B) मूर्त क्रियात्मक अवस्था
(C) पूर्व क्रियात्मक अवस्था
(D) औपचारिक क्रियात्मक अवस्था

21. विद्यार्थियों को विद्यालय में खेलना क्यों उचित है ?
(A) यह शिक्षकों के लिए काम आसान करेगा
(B) यह सहयोग एवं शारीरिक संतुलन का विकास करेगा
(C) यह समय बिताने में सहायक होगा
(D) यह उन्हें शारीरिक रूप से सशक्त बनाएगा

22. परिवार एक साधन है ?
(A) अनौपचारिक शिक्षा का
(B) दूरस्थ शिक्षा का
(C) गैर-औपचारिक शिक्षा का
(D) औपचारिक शिक्षा का

23. एक शिक्षक के लिए सबसे महत्वपूर्ण क्या है ?
(A) कक्षा में अनुशासन बनाए रखना
(B) एक सुवक्ता होना
(C) विद्यार्थियों की कठिनाइयों को दूर करना
(D) कक्षा में समयानुवर्ती होना

24. बचपन का सांप्रतिक दृष्टिकोण की मान्यता क्या है ?
(A) बहुत तरीके से बच्चे प्राप्त वयस्कों के बराबर होते हैं
(B) बच्चों को युवा प्राप्तवयस्कों के रूप में सबसे अच्छा माना जाता है
(C) बचपन आधारिक रूप से प्रतीक्षा अवधि है
(D) बचपन वृद्धि एवं परिवर्तन की एक अनूठी अवधि है

25. चरित्र का विकास कैसे होता है ?
(A) इच्छाशक्ति द्वारा
(B) नैतिकता द्वारा
(C) बर्ताव एवं व्यवहार द्वारा
(D) ये सभी 

 Exam Point For TET :

आप सभी इस CTET UPTET Samanya Gyan Notes को जरुर पढ़े क्योंकि इसमें से अधिकतर प्रश्न परीक्षा में पूछे गए है | इस समान्य ज्ञान नोट्स का PDF भी उपलब्ध है |

  • बच्चों में रटने की आदत में कमी लाने तथा समझ बढ़ाने के लिए आवश्यक है कि – अध्यापक शिक्षण विधि में परिवर्तन करें |
  • शिक्षण को अधिक प्रभावी बनाने हेतु पर्यटन का महत्व होता है क्योंकि छात्रों को कक्षा में पढ़ाई जाने वाली वस्तुओं का वास्तविक अनुभव |
  • छात्रों को निर्देशन एवं परामर्श की आवश्यकता होती है- छात्रों को रुचि एवं योग्यता अनुसार कैरियर निर्माण के लिए |
  • शिक्षण विधि में पालन किया जाता है- ज्ञात से अज्ञात की ओर, स्थूल से सूक्ष्म की ओर, विशेष सामान्य की ओर, विश्लेषण से संश्लेषण, प्रत्यक्ष से अप्रत्यक्ष की ओर, सुगम से कठिन की ओर |
  • सभी के लिए विद्यालय में सभी की शिक्षा ‘समावेशी शिक्षा पद्धति’ को दर्शाती है |
  • असंगठित घर से आने वाला बच्चा सबसे अधिक कठिनाई का अनुभव करेगा- स्वतंत्र अध्ययन में
  • मूल प्रवृत्तियां होती है- जन्मजात
  • सृजनात्मक बच्चों का मूल गुण है- वह मौलिक चिंतन करने में रुचि रखते है
  • विकास कभी न समाप्त होने वाली प्रक्रिया है- वह कथन निरंतरता के सिद्धांत से जुड़ा है |
  • निचली कक्षाओं में शिक्षण की खेल पद्धति मूलतः आधारित है- विकास वृद्धि के मनोवैज्ञानिक सिद्धांतों पर



अधिक जानकारी के लिए UPTET की Website पर जाए : Click Here

इनको भी जरुर पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here